ashleegems 3 mukhi rudraksha Mala
Vedik Malas

3 mukhi rudraksha Mala

3 मुखी रुद्राक्ष

प्रत्येक रुद्राक्ष में जीवन के किसी न किसी पहलू को लाभ पहुंचाने का विशिष्ट गुण होता है। यह करियर, परिवार, प्यार या स्वास्थ्य से संबंधित हो सकता है। 3 मुखी रुद्राक्ष (3 मुखी रुद्राक्ष) की सतह पर 3 प्राकृतिक रेखाएँ हैं, जो इसकी पहचान को वास्तविक बनाती है। यह रुद्राक्ष नेपाल और इंडोनेशिया में पाया जाता है। 3 मुखी रुद्राक्ष मुख्य रूप से स्वास्थ्य की बेहतरी के लिए काम करता है। इसे अग्निदेव का रूप माना जाता है। अग्नि देव कठोर वैदिक देवता, उग्र और शक्तिशाली हैं। मंगल इस रुद्राक्ष का स्वामी है। इसे मंगल और सूर्य से संबंधित दोषों को दूर करने के लिए पहना जाना चाहिए। 3 मुखी रुद्राक्ष पहनने वाले के आसपास की नकारात्मक ऊर्जा को जला देता है और व्यक्ति के बुरे कामों को नष्ट कर देता है, जिससे व्यक्ति अपराध-मुक्त और तनाव-मुक्त हो जाता है। शास्त्रों के अनुसार, इसे पहनने से महिलाओं को हत्या के पाप से भी मुक्ति मिल सकती है।

वैदिक ज्योतिष के अनुसार, हम अपने पुनर्जन्म से जुड़े हैं जो हमारे वर्तमान और भविष्य के जीवन की नींव बनाता है। इस जन्म में पिछले कार्यों के कारण कुछ लोग पीड़ित होते हैं। 3 मुखी रुद्राक्ष (3 मुखी रुद्राक्ष) ब्रह्मा विष्णु और महेश से संबंधित है, इसके अलावा यह पृथ्वी, आकाश और पाताल से भी जुड़ा है। यह पहनने वाले के स्वास्थ्य, धन और ज्ञान को बढ़ाता है। धारक किसी भी प्रकार के रोग से पीड़ित नहीं होता है और शत्रुओं का नाश होता है। यह उन लोगों में आत्म प्रेम को बढ़ावा देने में मदद करता है जिनके पास आत्म-चेतना और मानसिक तनाव है।

3 मुखी रुद्राक्ष की खासियत यह है कि इसके धारण करने के कुछ ही समय बाद इसका सकारात्मक प्रभाव दिखाई देने लगता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *